Category: Babaji Ji Sakhi

Sort: Date | Views |
View:

जैसा अन्न वैसा मन – Jaisa Ann waisa mann Short Inspiration Story rssbeas babaji

2.69K Views0 Comments

बासमती चावल बेचने वाले एक सेठ की स्टेशन मास्टर से साँठ-गाँठ हो गयी। सेठ को आधी कीमत पर बासमती चावल मिलने लगा। सेठ ने सोचा कि इतना पाप हो रहा है , तो कुछ धर्म-कर्म भी करना चाहिए। एक दिन उसने बासमती चावल की खीर बनवायी औ...

हमेशा ईश्वर के नाम का जाप – Hamesha Ishwar ke naam ka jaap – Radha Soami Ji

4.41K Views2 Comments

एक गुरू जी थे । हमेशा ईश्वर के नाम का जाप किया करते थे । काफी बुजुर्ग हो गये थे । उनके कुछ शिष्य साथ मे ही पास के कमरे मे रहते थे । जब भी गुरूजी को शौच; स्नान आदि के लिये जाना होता था; वे अपने शिष्यो को आवाज लगाते थे...

एक बेटी बहुत ही अच्छी कहानी – Ek Beti Ki Kahani – Radha Soami Ji Ki Sakhi

11.00K Views1 Comments

एक बेटी ने जिद पकड़ ली “पापा मुझे साइकिल चाहिये ! पापा ने कहा अगले महीने दिवाली पर जरुर साईकल लाउंगा ! प्रॉमिस ! एक महीने बाद… पापा , मुझे साइकिल चाहिये , आपने प्रॉमिस किया था … ! वह चुप रहा … शाम को दफ्तर से...

सत्संगी मित्र के द्वारा आपबीती Ek Mahila Satsangi Mitra ke Dwara apni aapbiti Baba ji ki Saakhi

3.62K Views1 Comments

rssbeas #radha soami ji MUST listen Ek Mahila Satsangi Mitra ke Dwara apni aapbiti Baba ji ki Saakhi सत्संगी मित्र के द्वारा आपबीती Ek Mahila Satsangi Mitra ke Dwara apni aapbiti Baba ji ki Saakhi

Satguru Ka Intjar – Radha Soami Sakhiya

2.65K Views1 Comments

Satguru Ka Intjar - Radha Soami Sakhiya एक संत बहुत दिनों से नदी के किनारे बैठे थे, एक दिन किसी व्यकि ने उससे पुछा आप नदी के किनारे बैठे-बैठे क्या कर रहे हैं संत ने कहा, इस नदी का जल पूरा का पूरा बह जाए इसका इंतजा...

Sewa Sant! Nice Radha Soami Sakhi 2016

2.11K Views1 Comments

Sewa Sant! A Nice Radha Soami Sakhi 2016 हरनाम सिंह जी की कपड़े की दुकान थी। परन्तु सन्तों की सेवा में इतना समय लग जाता कि दुकान दिन में कभी दो-चार घण्टे ही खुलती और कभी बिल्कुल बंद रहती। यह कथन बिल्कुल सत्य है क...

Satguru ki Khushi – Radha Soami New Sakhi

2.67K Views3 Comments

एक साहूकार घोड़े पर सवार होकर जंगल से गुज़र रहा था। तभी घोड़े को प्यास लगी।साहूकार ने आस पास देखा वहां एक रहट(गाँव में पानी खिंच कर सप्लाई करने का साधन)चल रही थी। साहूकार जैसे ही घोड़े को रहट के पास लाकर पानी पिलाने लगत...

Satguru ka Shukr Kare – सतगुरु का शुक्र करें – Latest Radha Soami Sakhi

2.43K Views1 Comments

Here is another a beautiful and must read new sakhi or short story Satguru ka Shukr Kare. Satguru ka Shukr Kare - Latest Radha Soami Sakhi लाहौरी और शाहआलमी दरवाजों के बाहर कभी एक बाग़ था। वहाँ एक फ़क़ीर था। उसके द...