2.74K Views0 Comments
ये कहानी एक ऐसे व्यक्ति की है जो एक फ्रीजर प्लांट (freezer plant) में काम करता था। वह दिन का अंतिम समय था और सभी लोग घर जाने को तैयार थे। तभी प्लांट में एक तकनीकी समस्या (technical problem) उत्पन्न हो गयी और वह उसे दूर करने में जुट गया। जब तक वह कार्य पूरा करता, तब तक अत्यधिक देर हो गयी। लाईटें बुझा दी गईं, दरवाजे सील हो गये और वह उसी प्लांट में बंद हो गया। बिना हवा व प्रकाश के पूरी रात आइस प्लांट में फंसे रहने के कारण उसकी कब्रगाह बनना तय था।

लगभग आधा घण्टे का समय बीत गया। तभी उसने किसी को दरवाजा खोलते पाया। क्या यह एक चमत्कार था? उसने देखा कि दरवाजे पर सिक्योरिटी गार्ड टार्च लिए खड़ा है। उसने उसे बाहर निकलने में मदद की।

Read this?   Bade baba ji ne satsang main sunai thi yeh baat

बाहर निकल कर उस व्यक्ति ने सिक्योरिटी से पूछा “आपको कैसे पता चला कि मै भीतर हूँ?”

गार्ड ने उत्तर दिया- “सर, इस प्लांट में 50 लोग कार्य करते हैँ पर सिर्फ एक आप हैँ जो मुझे सुबह आने पर हैलो व शाम को जाते समय बाय कहते हैँ। आज सुबह आप ड्यूटी पर आये थे पर शाम को आप बाहर नहीं गए। इससे मुझे शंका हुई और मैं देखने चला आया।”
वह व्यक्ति नहीं जानता था कि उसका किसी को छोटा सा सम्मान देना कभी उसका जीवन बचाएगा। याद रखेँ, जब भी आप किसी से मिलें तो उसका गर्मजोशी और मुस्कुराहट के साथ सम्मान करें। हमें नहीं पता, पर हो सकता है कि ये आपके जीवन में भी चमत्कार दिखा दे।

आप शायद मानें या न मानें, पर हमारे जीवन के छोटे से छोटे कार्य भी हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसीलिए कहा जाता है कि आप जब भी किसी से मिलें, पूरे जोश से मिलें, हमेशा दूसरों की मदद करें और जो काम करें पूरी ईमानदारी से करें। फिर देख‍िए आपके जीवन में कैसे नए-नए रास्ते खुलते चले जाते हैं।

Read this?   चलिए हम ही बता देते हैं कि आगे उस लड़की ने क्या किया– एक प्रेणादायक कहानी

इसी बात को प्रमाण‍ित करती है यह प्रेरक कहानी (motivational story), जो यह बताती है कि आपका अच्छा व्यवहार (healthy and positive attitude) आपके लिए कितना महत्वपूर्ण हो सकता है। यह कहानी मुझे वाट्स ऐप (whatsapp) से मेरे एक मित्र ने भेजी थी। मुझे यह इतनी पसंद आई कि मैं आप सबके साथ शेयर कर रहा हूं। क्योंकि क्या पता यह किसके दिल को छू जाए, ओर उसका जीवन बदल जाए।

Read this?   उसे देख महात्मा झट से खड़े हुए और एक खम्भे को कस कर पकड़ लिया - एक दिलचस्प कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*