Latest Videos of Radha Soami Shabad and Sakhi

हजूर महाराज जी ने एक पत्र का जवाब दिया

2.92K Views0 Comments

Huzur Maharaj ji in responsed to a letter. Dear sister Do not diminish your heart. Never think that you are alone in a moment or you are being ignored or no one is watching you. You are receiving every help fr...

बाबा सरदार बहादुर सिंह जी के समय की बात

2.29K Views0 Comments

Ye us time ki BAAT hai jab; Baba Sardar Bahadur Singh Ji gaddhi par baithe hue the. Hazoor Maharaj Sawan Singh Ji ka koi premi-sewak unke paas aaya or sir niche kar k rote hue bola; Mein Dera Beas chhodkar jaana ...

एक सत्संगी सेवा करने आता था उसकी स्टोरी

3.11K Views0 Comments

one at a time Satsangi came to serve, ten day After the service was over, he was about to go home day First broke his leg, he Very sad and his mind I came to know that ten days served his In turn, the shank b...

Bade baba ji ne satsang main sunai thi yeh baat

2.62K Views0 Comments

This is the time of big Baba ji. A jogi used to do the rest on the Himalayas, a day is described as a hajur ji in the form of a glimpse of him. Raise your voices and start saying you will see if you have to take t...

Bacho par baba ji kirpa ki Story

1.15K Views0 Comments

Jaise kee aap sab jaanate hain ki hamaare baaba jee sabhee par daya mahar karate hai aur bachcho se to unaka khaas lagaav hai | yah baat jo aap padhane vaale haivomaarch ke maheene kee baat hai jab sababachchon ...

स्टोरी एक ब्लाइंड आदमी की जो डेरे में आया करता था…

2.91K Views0 Comments

Once a blind person, who was a devotee of Atmakta, came to the tent. He said to a servant of the hero, “Veer ji, I want to talk to your chef, you can tell how I can meet him, that savadar Veer said that the total...

बाबा जी ने सत्संग डेरा ब्यास में पूरे 54 मिनट किया

6.14K Views0 Comments

आज का बाबा जी का सत्संग आज डेरा ब्यास में पूरे 54 मिनट सत्संग किया और बाबा जी ने अकेले सत्संग किया मतलब कि आज बाबाजी के साथ पार्टी साहब नहीं थे बाबा जी के सत्संग की शुरुआत कर्मों से की बाबाजी ने बताया कि प्रमाद की न्य...

बीबी सत्संग फर्माया करती थी उसकी स्टोरी

3.22K Views0 Comments

Hoshiarpur ke pass ke gaon ki ek bibi jo ki satsang farmaya karti hai. Uski duty thursday ko evening satsang ke liye lagi. Sardiyon ka time tha to ghar aate bahut late ho gyi. Jab woh bapis ghar aa rehi thee ...

एक दिन माजूदा बाबा जी तरन तारन के सत्संग घर पे गए – प्रेणादायक कहानी

4.87K Views0 Comments

मौजूदा सरकार तरनतारन के सरप्राइज विजिट पर थे । दर्शन के बाद बहुत सारे लोगों ने अपनी-अपनी बात कही । अंत में एक बुजुर्ग जो पीछे बैठे थे , कुछ कहने की इच्छा जाहिर की । सतगुरु ने इशारा किया तो बीच से रास्ता साफ हो गया...

बाबा सावन सिंह जी की साखियों से एक विशेष प्रसंग

3.77K Views0 Comments

बड़े हजूर बाबा सावन सिंह जी की साखियों से एक विशेष प्रसंग है । जो झेलम की साखी का है नाम दान देने से पहले जीवो को कुछ हिदायते दिया करते थे । मॉस, शराब , पर स्त्री ,पर पुरुष , झूठ , चोरी ,निंदा छोड़ने के साथ ही...

Babaji ne Satsang main promise ke upar bataya

2.83K Views0 Comments

Promise and neglect – Babaji ne Satsang main promise ke upar bataya Leave the promise of most done and come to the promise made by the straightforward guru that he is playing the promise made to the guru or not...

एक परिवार की एक बहुत ही सुंदर कहानी – प्रेणादायक कहानी

6.02K Views0 Comments

एक पति-पत्नी में तकरार हो गयी —पति कह रहा था : “मैं नवाब हूँ इस शहर का लोग इसलिए मेरी इज्जत करते है और तुम्हारी इज्जत मेरी वजह से है।” पत्नी कह रही थी : “आपकी इज्जत मेरी वजह से है। मैं चाहूँ तो आपकी इज्जत एक मिनट...

मोहे मिला सुहाग गुरु का – Mohe mila suhag guru shabad

6.34K Views0 Comments

Rssb new shabad 2017 || मोहें मिला सुहाग गुरु का || Mohe Mila Suhag Guru Ka - Radha Soami

मेरी इस बात पर दादीकम अचंभित हुईं औरमेरे मित्र अधिक – एक प्रेणादायक कहानी

3.69K Views0 Comments

*लस्सी....✍* *एक चर्चित दूकान पर लस्सी का ऑर्डर देकर हम सब दोस्त-यार आराम से बैठकर एक दूसरे की खिंचाई और हंसी-मजाक में लगे ही थे कि एक लगभग 70-75 साल की बुजुर्ग स्त्री पैसे मांगते हुए मेरे सामने हाथ फैलाकर खड...

मेरे पापों से मुझे क्षमा करना ।बस, आज से मैं सिर्फ आपकेनाम का सुमिरन करुँगी – एक प्रेणादायक कहानी

5.81K Views0 Comments

⭕ परिवर्तन  ⭕* ~~~~~~~~~~~~~~ ♦ एक राजा को राज भोगते हुए काफी समय हो गया था । बाल भी सफ़ेद होने लगे थे । एक दिन उसने अपने दरबार में एक उत्सव रखा और अपने गुरुदेव एवं मित्र देश के राजाओं को भी सादर आमन्त्रित किया ...

तुम किसी और से प्रेम नहीं करोगे …वर्ना मेरी आत्मा तुम्हे चैन से जीने नहीं देगी

6.31K Views0 Comments

क आदमी की पत्नी अचानक से बहुत बीमार पड़ गयी . मरने से पहले उसने अपने पति से कहा , “ मैं तुम्हे बहुत प्यार करती हूँ …. तुम्हे छोड़ कर नहीं जाना चाहती… मैं नहीं चाहती की मेरे जाने के बाद तुम मुझे भुला दो और किसी दूसरी औरत...