Tag: Inspirational Story

Sort: Date | Views |
View:

शर्म से पानी पानी बाप कपडे से अपना चेहरा छुपाने लगा …

21.93K Views0 Comments

एक गरीब परिवार में एक सुन्दर सी बेटी? ने जन्म लिया.. बाप दुखी हो गया बेटा पैदा होता तो कम से कम काम में तो हाथ बटाता,, उसने बेटी को पाला जरूर, मगर दिल से नही.... वो पढने जाती थी तो ना ही स्कूल की फीस टाइम से...

बाप ने बेटी को गले से लगा लिया – एक दिलचस्प कहानी जरूर पढ़े…

20.93K Views0 Comments

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ एक घर में एक बेटी ने जनम लिया, जन्म होते ही माँ का स्वर्गवास हो गया। बाप ने बेटी को गले से लगा लिया। रिश्तेदारों ने लड़की के जन्म से ही ताने मारने शुरू कर दिए कि पैदा होते ही माँ को खा गयी मनहूस...

सडक के किनारे बनी झोपडी में वह बूढी माँ अपने बच्चे के साथ… एक प्रेणादायक कहानी

20.76K Views0 Comments

जनवरी की सर्द भरी रात थी सडक पर चारो तरफ सन्नाटा फैला हुआ था दूर दूर तक कोई नजर नही आ रहा था बीच बीच में सिर्फ कुत्तो के भौकने की आवाज़ आती थी जो की सडक की सन्नाटे को बीच बीच में चिर रही थी लेकिन सडक के किनारे बनी झोपड...

एक सेवादार भाई जो व्यास मे सेवा करते है मुलाकात हुई – एक प्रेणादायक कहानी

17.32K Views0 Comments

.. साखी .... एक सेवादार भाई जो व्यास मे सेवा करते है मुलाकात हुई गुरू घर की काफी बाते हुई उन्होंने हुजूर महाराज जी के समय की एक बात बतायी । हुजूर महाराज जी आई कैम्प का सेवादारो को प्रसाद दे रहे थे।ऊधर जहाँ मंगलसैन क...

उन्होंने कहा, “मैंने भगवान के साथ दोपहर का भोजन किया था” एक रोचक कहानी

14.13K Views0 Comments

There once was a little boy who wanted to meet God. He knew it was a long trip to where God lived, so he packed his suitcase with Twinkies and a six-pack of root beer and started his journey. When he had gone about th...

बेटे ने कहा, “नहीं सर, मैंने कुछ भी नहीं छोड़ा है” – एक रोचक कहानी

11.30K Views0 Comments

A son took his old father to a restaurant for an evening dinner.  Father being very old and weak, while eating, dropped food on his shirt and trousers.  Other diners watched him in disgust while his son was calm. A...

एक बेटी बहुत ही अच्छी कहानी – Ek Beti Ki Kahani – Radha Soami Ji Ki Sakhi

11.20K Views1 Comments

एक बेटी ने जिद पकड़ ली “पापा मुझे साइकिल चाहिये ! पापा ने कहा अगले महीने दिवाली पर जरुर साईकल लाउंगा ! प्रॉमिस ! एक महीने बाद… पापा , मुझे साइकिल चाहिये , आपने प्रॉमिस किया था … ! वह चुप रहा … शाम को दफ्तर से...

गुरुजी ने सभी शिष्यों से अनुरोध किया कि वे कल प्रवचन में आते समय अपने साथ बड़े-बड़े…

9.77K Views0 Comments

बहुत पुरानी कथा है। एक बार एक गुरुजी ने अपने सभी शिष्यों से अनुरोध किया कि वे कल प्रवचन में आते समय अपने साथ एक थैली में बड़े-बड़े आलू साथ लेकर आएं। उन आलुओं पर उस व्यक्ति का नाम लिखा होना चाहिए, जिससे वे नफरत...