Tag: rssb story

Sort: Date | Views |
View:

क्यों बुरे वक्त में भगवान इन लोगों का साथ नहीं देता – प्रेरणादायक कहानी

1.44K Views0 Comments

एक बार की बात है। एक इंसान भगवान में बहुत ही विश्वास करता था। वह पुरे मन से भगवान की सेवा किया करता था। एक दिन उसने भगवान से कहा – मैंने आपकी पुरे मन से सेवा की है। मैं जानना चाहता हूँ की आप हो भी या नहीं। आप भले ही म...

शादी हो जाने के कुछ समय बाद ही दोनों में किसी ना किसी बात पर लड़ाई…

1.31K Views0 Comments

वैवाहिक जीवन में होने वाले लड़ाई-झगडे हर घर की कहानी है. जाहिर है की जब दो बर्तन आपस में खड़केंगे तो आवाज तो होगी. जिस प्रकार ताली एक हाथ से नहीं बजती उसी प्रकार वैवाहिक जीवन में होने वाले ज्यादातर लड़ाई झगडे के लिए स्त्...

पति और पत्नी के बलिदान की कहानी – Wife Husband Story

1.68K Views0 Comments

रणधीर अपनी पत्नी से बहुत ही प्यार करता था | क्यों न करता उसकी पत्नी बहुत ही सुन्दर थी , उससे ज्यादा सुन्दर और लंबे उसके बाल थे | रणधीर एक छोटी सी नौकरी करता था , बड़ी मुश्किल से उसका गुजारा होता था | रणधीर अपनी वाइफ के...

दयालु प्रभु जब ये शरीर वापस मांग कर हिसाब करें तो हमें रोना न पड़े – एक कहानी

3.42K Views0 Comments

एक कहानी जो आपके जीवन से जुडी है । ध्यान से अवश्य पढ़ें– एक अतिश्रेष्ठ व्यक्ति थे एक दिन उनके पास एक निर्धन आदमी आया और बोला की मुझे अपना खेत कुछ साल के लिये उधार दे दीजिये , मैं उसमे खेती करूँगा और खेती करके...

उसके पिता उसे रसोई मे ले जाते है और तीन – एक सुन्दर कहानी है

2.23K Views0 Comments

एक बार एक बच्ची अपने पिता से शिकायत करती है की उसकी ज़िंदगी मुश्किलों से भरी हुई है और वह नहीं जानती की वो इनसे कैसे छुटकारा पाएँ। वह चुनोतिओ के सामने संघर्ष करते करते थक गयी है। एक मुश्किल सुलझती है तो दूसरी मुसीबत आ ...

दोबारा ऐसा मत कह देना माँ!आपके बिना मैं अधूरी हूँ

2.28K Views0 Comments

💥💥 संबंध 💥💥 ___________ "ओह छ:बज गए और माँ ने भी नहीं उठाया।" "इतनी देर तक कैसे सोती रह गई मैं?माँ कहाँ है।"बड़बड़ाती हुई श्रद्धा कमरें से बाहर भागी।रोज की तरह न माँ आज बाहर अखबार पढती दिखी और न मंदिर से धूप की सुग...

लड़कियां बड़ी लड़ाका होती हैं – मैंने देखा एक लड़की महिला सीट…

2.75K Views0 Comments

लड़कियां बड़ी लड़ाका होती हैं... मैंने देखा एक लड़की महिला सीट पर बैठे पुरुष को उठाने के लिए लड़ रही थी तो दूसरी लड़की महिला - कतार में खड़े पुरुष को हटाने के लिए लड़ रही थी मैंने दिमाग दौड़ाया तो हर ओर लड़की को लड़ते...

बेवक़ूफ़ गृहणी: एक औरत की सची दासतान

3.53K Views0 Comments

बेवक़ूफ़ गृहणी: एक औरत की सची दासतान।।।।।।। एक गृहणी वो रोज़ाना की तरह आज फिर ईश्वर का नाम लेकर उठी थी । किचन में आई और चूल्हे पर चाय का पानी चढ़ाया। फिर बच्चों को नींद से जगाया ताकि वे स्कूल के लिए तैयार हो सकें । कु...