Tag: rssbeas story

Sort: Date | Views |
View:

भगवान ने उसके पास जाकर कहा – मैं तुम्हें बचाना चाहता हूं

7.04K Views0 Comments

एक इंसान घने जंगल में भागा जा रहा था। . शाम हो गई थी। . अंधेरे में कुआं दिखाई नहीं दिया और वह उसमें गिर गया। . गिरते-गिरते कुएं पर झुके पेड़ की एक डाल उसके हाथ में आ गई। जब उसने नीचे झांका, तो देखा कि कुएं में च...

एक प्रेणादायक कहानी मुफ्त अनारों की कीमत नहीं समझी – Motivation Story

7.71K Views0 Comments

एक समय की बात है। एक शहर में एक धनी आदमी रहता था। उसकी लंबी-चौड़ी खेती-बाड़ी थी और वह कई तरह के व्यापार करता था। बड़े विशाल क्षेत्र में उसके बगीचे फैले हुए थे, जहां पर भांति-भांति के फल लगते थे। उसके कई बगीचों में अन...

Habits tell the whereabouts of aught – Story Hindi

7.00K Views0 Comments

*आदतें औकात का पता बता देती हैं...* एक राजा के दरबार मे एक अजनबी इंसान नौकरी मांगने के लिए आया। उससे उसकी क़ाबलियत पूछी गई, तो वो बोला, "मैं आदमी हो चाहे जानवर, शक्ल देख कर उसके बारे में बता सकता हूँ। राजा ने...

माँ ने सोच कर उत्तर दिया – “बेटा” हिसाब ज़रा लम्बा है, सोच कर बताना पडेगा

5.28K Views0 Comments

एक बेटा पढ़-लिख कर बहुत बड़ा आदमी बन गया। पिता के स्वर्गवास के बाद माँ ने हर तरह का काम करके उसे इस काबिल बना दिया था। शादी के बाद पत्नी को माँ से शिकायत रहने लगी के वो उन के स्टेटस मे फिट नहीं है। लोगों को बताने मे उ...

दयालु प्रभु जब ये शरीर वापस मांग कर हिसाब करें तो हमें रोना न पड़े – एक कहानी

3.38K Views0 Comments

एक कहानी जो आपके जीवन से जुडी है । ध्यान से अवश्य पढ़ें– एक अतिश्रेष्ठ व्यक्ति थे एक दिन उनके पास एक निर्धन आदमी आया और बोला की मुझे अपना खेत कुछ साल के लिये उधार दे दीजिये , मैं उसमे खेती करूँगा और खेती करके...

दूसरों को छोटा न समझें – एक बहुत अच्छी कहानी

1.77K Views1 Comments

एक बार कि बात है एक संत थे, वे अक्सर यात्रा पर रहते थे और उनका नियम था कि वे ऐसे ही लोगों के घर आश्रय लेते थे, जिनका अचार विचार अच्छा हो और घर पवित्र हो। इस बार उन्होंने वृन्दावन जाने का सोचा लेकिन पहुँचने से पहले ही ...

उसके पिता उसे रसोई मे ले जाते है और तीन – एक सुन्दर कहानी है

2.22K Views0 Comments

एक बार एक बच्ची अपने पिता से शिकायत करती है की उसकी ज़िंदगी मुश्किलों से भरी हुई है और वह नहीं जानती की वो इनसे कैसे छुटकारा पाएँ। वह चुनोतिओ के सामने संघर्ष करते करते थक गयी है। एक मुश्किल सुलझती है तो दूसरी मुसीबत आ ...

हजूर महाराज जी ने एक पत्र का जवाब दिया

2.97K Views0 Comments

Huzur Maharaj ji in responsed to a letter. Dear sister Do not diminish your heart. Never think that you are alone in a moment or you are being ignored or no one is watching you. You are receiving every help fr...